चेतना न्यूज़

  खबरों का सच

नई दिल्ली, 11 जनवरी (चेतना न्यूज़)| आलोक वर्मा ने शुक्रवार को कहा कि उनके खिलाफ लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोप झूठे, अप्रमाणित हैं। आलोक वर्मा का सीबीआई निदेशक के तौर पर कमान संभालने के 48 घंटे के भीतर तबादला कर दिया गया। विशेष निदेशक राकेश अस्थाना द्वारा लगाए गए अरोपों का जिक्र करते हुए आलोक वर्मा ने कहा, "यह दुखद है कि मेरे विरोधी सिर्फ एक व्यक्ति द्वारा लगाए गए झूठे, अप्रमाणित, हल्के आरोपों के आधार पर मेरा तबादला कर दिया गया।" वर्मा को उच्चस्तरीय चयन समिति ने 2-1 के फैसले से गुरुवार शाम को उनके पद से हटा दिया था। इस समिति के सदस्यों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लोकसभा में नेता विपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे व मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई द्वारा नामित न्यायमूर्ति ए.के.सीकरी शामिल थे। इस बैठक में न्यायमूर्ति सीकरी ने केंद्रीय सर्तकता आयोग (सीवीसी) के निष्कर्षो के आधार पर सरकार का पक्ष लिया कि आलोक वर्मा को पद से हाटाया जाना चाहिए। मल्लिकार्जुन खड़गे ने बहुमत के फैसले का विरोध किया। उन्होंने फैसले से असहमति जाहिर की। आलोक वर्मा 1979 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। उन्हें राकेश अस्थाना के साथ टकरार सार्वजनिक होने के बाद 23 अक्टूबर को छुट्टी पर भेज दिया गया था आलोक वर्मा को शीर्ष अदालत ने मंगलवार को फिर से सीबीआई निदेशक के तौर पर बहाल कर दिया। आलोक वर्मा ने गुरुवार रात कहा, "मैंने संस्था की अखंडता बनाए रखने की कोशिश की और अगर मौका मिला तो कानूनी नियमों को बनाए रखने के लिए फिर से ऐसा करूंगा।" उन्होंने कहा कि सीबीआई भ्रष्टाचार से निपटने वाली एक प्रमुख जांच एजेंसी है, एक ऐसी संस्था है जिसकी स्वतंत्रता को संरक्षित और सुरक्षित किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा, "इसे बिना किसी बाहरी प्रभावों यानी दखलअंदाजी के कार्य करना चाहिए। मैंने संस्था की साख बनाए रखने की कोशिश की है, जबकि इसे नष्ट करने के प्रयास किए जा रहे हैं।" उन्होंने सरकार व सीवीसी के 23 अक्टूबर के आदेशों का जिक्र करते हुए कहा, "इसे केंद्र सरकार और सीवीसी के 23 अक्टूबर, 2018 के आदेशों में देखा जा सकता है जो बिना किसी अधिकार क्षेत्र के दिए गए थे।" सरकार व सीवीसी के 23 अक्टूबर के आदेश में आलोक वर्मा को उनके अधिकारों से वंचित कर उन्हें छुट्टी पर भेज दिया गया था। समिति की बैठक के तुंरत बाद आलोक वर्मा को 31 जनवरी तक के लिए अग्निशमन सेवा, नागरिक सुरक्षा और होम गार्ड का महानिदेशक नियुक्त कर दिया गया। आलोक वर्मा का कार्यकाल 31 जनवरी को समाप्त हो रहा है। सरकार ने अगले निदेशक की नियुक्ति तक सीबीआई के अतिरिक्त निदेशक एम.नागेश्वर राव को अंतरिम निदेशक के रूप में जिम्मेदारी सौंपी।


Share News

इंदौर में सनसनीखेज हत्याकांड में पुलिस को मिली एक सस्पेक्टेड कार

नवीन मौर्य  इन्दौर 17 जनवरी 【चेतना न्यूज़】 । इंदौर में कल शाम को हुए डिब्बा कारोबारी के सनसनीखेज हत्याकांड में
Read More

धीरज प्रेम नारायण पाटीदार जिला युवा कांग्रेस देवास महासचिव नियुक्त...

हाटपीपल्या । (पं.आर्य भूषण शर्मा) मध्य प्रदेश युवा कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष एवं विधायक कालापीपल कुणाल चौधरी की
Read More

विधायक मनोज चौधरी का दौरा ग्रामीण क्षेत्रो में आज...

हाटपीपल्या । (पं.आर्य भूषण शर्मा) क्षेत्रीय विधायक मनोज चौधरी दिनांक 18 जनवरी गुरुवार को  एक दर्जन से ज्यादा
Read More

चेतना हेल्थ संस्था के सहयोग से रिलायंस जिओ के कर्मचारियों की आँखों का फ्री चेकअप केम्प सम्पन

चेतना हेल्थ संस्था के सहयोग से रिलायंस जिओ के कर्मचारियों की आँखों के रेटिना फ्री चेकअप केम्प सम्पन्न ।  देवास
Read More

देवास व्यवस्था से बीमार जिला अस्पताल के हाल जानने पहुचे कलेक्टर श्री पाण्डे ।

देवास 17 जनवरी【 चेतना न्यूज़】 विगत दिवस जिला अस्पताल के टिका करण के शासकीय कार्यक्रम में लोक निर्माण मंत्री सज्जन
Read More

वन विभाग की कार्यवाही के दौरान वन रक्षक को किया घायल लकड़ी माफियाओं के हौसले बुलंद

द्वारका शर्मा देवास 17 जनवरी 【चेतना न्यूज़】 कांटाफोड़ - क्षेत्र में लकड़ी माफियाओं के हौसले इतने बुलंद है कि बेखोफ
Read More

केबिनेट राज्य मंत्री का प्रथम नगर आगमन पर किया भव्य स्वागत

, द्वारका शर्मा देवास 17 जनवरी 【चेतना न्यूज़】 कांटाफोड़ - नगर में एक दिवसीय दौरे पर आये कृषि राज्य मंत्री सचिन यादव का
Read More

देवास नगरनिगम प्रसासन की लापरवाही से हो सकता है बड़ा हादसा ।

देवास 16 जनवारी【 चेतना न्यूज़】 जैसे ही विधानसभा चुनाव की तारीख नजदीक आई और नगरनिगम में काबिज महापौर श्री शर्मा की
Read More

अमित शाह स्वाइन फ्लू से पीड़ित, एम्स में भर्ती

नई दिल्ली, 16 जनवरी (चेतना न्यूज़)| भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह को स्वाइन फ्लू के संक्रमण के कारण
Read More