चेतना न्यूज़

  खबरों का सच

नई दिल्ली, 11 जनवरी (चेतना न्यूज़)| आलोक वर्मा ने शुक्रवार को कहा कि उनके खिलाफ लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोप झूठे, अप्रमाणित हैं। आलोक वर्मा का सीबीआई निदेशक के तौर पर कमान संभालने के 48 घंटे के भीतर तबादला कर दिया गया। विशेष निदेशक राकेश अस्थाना द्वारा लगाए गए अरोपों का जिक्र करते हुए आलोक वर्मा ने कहा, "यह दुखद है कि मेरे विरोधी सिर्फ एक व्यक्ति द्वारा लगाए गए झूठे, अप्रमाणित, हल्के आरोपों के आधार पर मेरा तबादला कर दिया गया।" वर्मा को उच्चस्तरीय चयन समिति ने 2-1 के फैसले से गुरुवार शाम को उनके पद से हटा दिया था। इस समिति के सदस्यों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, लोकसभा में नेता विपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे व मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई द्वारा नामित न्यायमूर्ति ए.के.सीकरी शामिल थे। इस बैठक में न्यायमूर्ति सीकरी ने केंद्रीय सर्तकता आयोग (सीवीसी) के निष्कर्षो के आधार पर सरकार का पक्ष लिया कि आलोक वर्मा को पद से हाटाया जाना चाहिए। मल्लिकार्जुन खड़गे ने बहुमत के फैसले का विरोध किया। उन्होंने फैसले से असहमति जाहिर की। आलोक वर्मा 1979 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। उन्हें राकेश अस्थाना के साथ टकरार सार्वजनिक होने के बाद 23 अक्टूबर को छुट्टी पर भेज दिया गया था आलोक वर्मा को शीर्ष अदालत ने मंगलवार को फिर से सीबीआई निदेशक के तौर पर बहाल कर दिया। आलोक वर्मा ने गुरुवार रात कहा, "मैंने संस्था की अखंडता बनाए रखने की कोशिश की और अगर मौका मिला तो कानूनी नियमों को बनाए रखने के लिए फिर से ऐसा करूंगा।" उन्होंने कहा कि सीबीआई भ्रष्टाचार से निपटने वाली एक प्रमुख जांच एजेंसी है, एक ऐसी संस्था है जिसकी स्वतंत्रता को संरक्षित और सुरक्षित किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा, "इसे बिना किसी बाहरी प्रभावों यानी दखलअंदाजी के कार्य करना चाहिए। मैंने संस्था की साख बनाए रखने की कोशिश की है, जबकि इसे नष्ट करने के प्रयास किए जा रहे हैं।" उन्होंने सरकार व सीवीसी के 23 अक्टूबर के आदेशों का जिक्र करते हुए कहा, "इसे केंद्र सरकार और सीवीसी के 23 अक्टूबर, 2018 के आदेशों में देखा जा सकता है जो बिना किसी अधिकार क्षेत्र के दिए गए थे।" सरकार व सीवीसी के 23 अक्टूबर के आदेश में आलोक वर्मा को उनके अधिकारों से वंचित कर उन्हें छुट्टी पर भेज दिया गया था। समिति की बैठक के तुंरत बाद आलोक वर्मा को 31 जनवरी तक के लिए अग्निशमन सेवा, नागरिक सुरक्षा और होम गार्ड का महानिदेशक नियुक्त कर दिया गया। आलोक वर्मा का कार्यकाल 31 जनवरी को समाप्त हो रहा है। सरकार ने अगले निदेशक की नियुक्ति तक सीबीआई के अतिरिक्त निदेशक एम.नागेश्वर राव को अंतरिम निदेशक के रूप में जिम्मेदारी सौंपी।


Share News

लोक निर्माण मंत्री वर्मा से मिला कलमकार संघ 

लोक निर्माण मंत्री वर्मा से मिला कलमकार संघ  कांटाफोड़ नगर के मुख्य मार्ग की ज्वलंत समस्या से कराया
Read More

देशवाशियो के दिलो में शहीद श्री यादव की सदैव रहेगी याद, जिसने आतंकवाद से लड़ते हुए शहीद संदीप की शहादत

   जम्मू कश्मीर के अनंतनाग में हुए आतंकी हमले मैं शहीद संदीप यादव का पार्थिव शरीर पंचतत्व में लीन
Read More

नगर परिषद अधिकारी की मनमानी से जनता त्रस्त जिओ लाईन की परमिशन बनी परेशानी का सबब

नगर परिषद अधिकारी की मनमानी से जनता त्रस्त  जिओ लाईन की परमिशन बनी परेशानी का सबब  नगरवासी अधिकारी की
Read More

चन्द्रकेशर नदी का होगा उत्थान , अब बारिश में बहकर निकलेगा पानी

द्वारका शर्मा देवास13 जून【 चेतना न्यूज़】 कांटाफोड़ -  चन्द्रकेशर नदी नगर कांटाफोड़ की जीवनदायिनी कहलाती है। कुछ
Read More

नगर परिषद अधिकारी की मनमानी से नगर के विकास कार्य हो रहे अवरुद्ध 

नगर परिषद अधिकारी की मनमानी से नगर के विकास कार्य हो रहे अवरुद्ध  द्वारका शर्मा देवास 13 जून 【चेतना न्यूज़】
Read More

इंदौर नगर निगम के सम्मेलन में भारी हंगामा, सम्मेलन में कांग्रेस कार्यकर्ता घुसे,महापौर सहित भाजपाइ पहुचे थाने

इंदौर नगर निगम के सम्मेलन में भारी हंगामा, कांग्रेस कार्यकर्ता घुसे, महापौर सहित भाजपाइयों का लसूड़िया थाने में
Read More

विश्व कल्याणार्थ श्री मारुती महा यज्ञ गुरुवार से प्रारम्भ मालाखड़ सरकार पर हो रहा एक कुंडीय यज्ञ

विश्व कल्याणार्थ श्री मारुती महा यज्ञ गुरुवार से प्रारम्भ मालाखड़ सरकार पर हो रहा एक कुंडीय यज्ञ द्वारका
Read More

महेश नवमी उत्साह के साथ मनाई गई , निकाला विशाल चल समारोह

महेश नवमी उत्साह के साथ मनाई गई , निकाला विशाल चल समारोह द्वारका शर्मा देवास 13 जून 【चेतना न्यूज़】 कांटाफोड़ नगर
Read More

देवास में भाजपा ने निकाली लालटेन यात्रा

देवास में भाजपा ने निकाली लालटेन यात्रा - बिजली की सप्लाई घ्वस्त ,कमलनाथ सरकार मस्त - कार्यकर्ता लालटेन हाथ में
Read More