चेतना न्यूज़

  खबरों का सच

भोपाल : [चेतना न्यूज] खेल और युवा कल्याण मंत्री जीतू पटवारी ने प्रदेश के अर्जुन, विक्रम, एकलव्य खिलाड़ियों तथा विश्वामित्र पुरस्कार से सम्मानित प्रशिक्षकों और खेल संघों के पदाधिकारियों से खेलों के विकास पर सीधा संवाद किया। उन्होंने कहा कि इस संवाद के माध्यम से प्राप्त महत्वपूर्ण सुझावों पर गंभीरता के साथ अमल किया जायेगा ताकि खिलाड़ियों को प्रोत्साहन मिले और खेलों का विकास हो। प्रदेश के खिलाड़ी ओलंपिक, एशियन गेम्स और कॉमनवेल्थ गेम्स में भागीदारी करते हैं, तो सरकार उन्हें प्रोत्साहन देगी। जिस तरह अन्य प्रदेशों में करोड़ों रूपए की सम्मान निधि वहां के खिलाड़ियों को उपलब्ध करायी जाती है, उसी प्रकार हमारे खिलाड़ियों को भी प्रोत्साहन की बढ़ी हुई राशि प्रदान की जायेगी। इसका प्रस्ताव तैयार कर वित्त विभाग को भेजा गया है। खेल मंत्री पटवारी आज टी.टी. नगर स्टेडियम स्थित मार्शल आर्ट हॉल में आयोजित संवाद कार्यक्रम को संबांधित कर रहे थे। कार्यक्रम में प्रदेश भर से आये अर्जुन, विक्रम, एकलव्य खिलाड़ियों तथा विश्वामित्र पुरस्कार से सम्मानित प्रशिक्षकों और खेल संघों के पदाधिकारियों ने प्रदेश में खेलो के विकास के लिए महत्वपूर्ण सुझाव प्रस्तुत किये। कार्यक्रम मे इंदौर के अर्जुन अवार्डी पूर्व पहलवान कृपाशंकर बिशनोई ने इंदौर मे कुश्ती एकेडमी स्थापित करने का सुझाव दिया उन्होने कहा लोगो मे कुश्ती का जुनून मालवा, निमाड सहित इंदौर छेत्र के इर्द गिर्द है पहलवानों की फोज इंदौर मे और एकेडमी के लिए करोड़ो रुपये भोपाल मे खर्च किए जा रहे है | उन्होने यह भी कहा की खेल विभाग द्वारा माँ तुझे प्रमाण के लिए बाडर पर खिलाड़ियो को भेजा जाता है जिसमे लाखो रूपए खर्च किए जाते है | यह खेलो मे उपलब्धि बड़ाने कौन सा तरीका है इसे बंद किया जाना चाहिए खेल बजट का पेसा सिर्फ खेलो के उत्थान पर ही खर्च किया जाना चाहिए | इस दौरान मंत्री पटवारी ने खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करते हुए बताया कि ओलंपिक के स्वर्ण पदक विजेताओं को 3 करोड़, रजत विजेताओं को 2 करोड़ और कांस्य विजेता को 1 करोड़ रूपए की राशि दिये जाने का प्रस्ताव है। प्रतिभागिता करने पर कम से कम 10 लाख रूपए प्रोत्साहन स्वरूप दिए जाएंगे। एशियन गेम्स के स्वर्ण पदक विजेताओं को 2 करोड़, रजत को 1 करोड़ और कांस्य विजेता को 75 लाख रूपए की राशि दिया जाना प्रस्तावित है। प्रतिभागिता करने पर कम से कम 5 लाख रूपए प्रोत्साहन स्वरूप दिए जाएंगे। राष्ट्रमंडल या एशियन इंडोर गेम्स के स्वर्ण पदक विजेताओं को 50 लाख, रजत विजेताओं को 30 लाख और कांस्य विजेता को 20 लाख रूपए और प्रतिभागिता करने पर 2 लाख रूपए प्रोत्साहन स्वरूप दिया जाना प्रस्तावित किया गया है। दक्षिण एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेताओं को 6 लाख, रजत विजेताओं को 4 लाख और कांस्य विजेताओं को 3 लाख रूपए तथा प्रतिभागिता करने पर 1.50 लाख रूपए प्रोत्साहन स्वरूप दिए जाने का प्रस्ताव शासन को भेजा गया है। राष्ट्रमंडल, एशियन या अन्य अंतराष्ट्रीय चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक विजेताओं को 4 लाख, रजत को 3 लाख और कांस्य विजेता को 2 लाख रूपए की राशि, प्रतिभागिता करने पर 1 लाख रूपए प्रोत्साहन स्वरूप दिए जाने का प्रस्ताव है। इसके अतिरिक्त राष्ट्रीय खेलों में दलीय विधा में स्वर्ण पदक विजेताओं को 6 लाख, रजत को 4 लाख और कांस्य विजेता को 3 लाख रूपए, अधिकृत राष्ट्रीय चैंपियनशिप में मप्र के मूल निवासी या खेल विभाग द्वारा संचालित अकादमियों के अधिकृत खिलाड़ियों को पदक जीतने पर व्यक्तिगत एवं दलीय विधा में स्वर्ण पदक विजेताओं को 2 लाख, रजत को 1.50 लाख और कांस्य विजेता को 1 लाख रूपए की राशि दिये जाने का प्रस्ताव है। जीतू पटवारी ने कहा कि राष्ट्रीय स्तर के खेलों में लगातार भागीदारी के बाद भी किसी खिलाड़ी को नौकरी नहीं मिल पाती है, तो सरकार का यह प्रयास होगा कि किसी खिलाड़ी के साथ अन्याय न हो। उसके लिए न्यूनतम कारगर व्यवस्था की जाएगी। खिलाड़ियों की राष्ट्रीय, अंतराष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में भागीदारी पर उन्हें प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इसके अलावा पदक जीतने वाले खिलाड़ियों को शानदार पारितोषिक के रूप में प्रोत्साहन राशि को बढ़ाया जा रहा है। देश में प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए खिलाड़ी को प्रशिक्षण हेतु राशि रू. 1.00 लाख अथवा वास्तविक (जो कम हो), जिसमें खिलाड़ी का आना-जाना, भोजन, आवास, प्रशिक्षण एवं चिकित्सा व्यय सम्मिलित होगा, उपलब्ध कराई जावेगी। संवाद कार्यक्रम में प्रमुख सचिव खेल अनिरूद्ध मुकर्जी, संचालक खेल डॉ. एस.एल. थाउसेन, अर्जुन अवार्डी हॉकी खिलाड़ी श्रीमती सुनीता चंद्रा, सैयद जलालुद्दीन रिजवी, कुश्ती खिलाड़ी कृपाशंकर, पप्पू यादव, शूटिंग खिलाड़ी राजकुमारी राठौर, सैलिंग कोच जीएल यादव, रोइंग कोच दलवीर सिंह उपस्थित थे।


Share News

हरियाणे की बहू मंजू ने रचा इतिहास, विश्व पुलिस खेलो मे जीता स्वर्ण पदक फहराया तिरंगा

अहमदाबाद 16 अगस्त【 चेतना न्यूज़】 रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स (आरपीएफ) में कार्यरत मंजू सुरा ने चीन के चैगडू शहर मे विश्व
Read More

जूनियर विश्व कुश्ती चैंपियनशिप :: दीपक पुनिया ने जीता गोल्ड विक्की को मिला कास्य

एस्टोनिया 14 अगस्त 【चेतना न्यूज़】 भारत के उद्यमान पहलवान दीपक पुनिया ने 12 से 18 अगस्त 2019 तक एस्टोनिया की राजधानी
Read More

अलेक्जेंड्रे मेडवेड XLIX इंटरनेशनल ग्रैंड प्रिक्स टूर्नामेंट पुरुषो मे एकमात्र रवि कुमार ने जीता कास्य पदक

चेतना न्यूज़ पर अंतरराष्ट्रीय महिला कुश्ती कोच कृपाशंकर विश्नोई की कलम से 11 अगस्त【 चेतना न्यूज़】 फ्री स्टाइल में
Read More

अलेक्जेंड्रे मेडवेड XLIX इंटरनेशनल ग्रैंड प्रिक्स टूर्नामेंट पुरुषो मे एकमात्र रवि कुमार ने जीता कास्य पदक

चेतना न्यूज़ पर अंतरराष्ट्रीय महिला कुश्ती कोच कृपाशंकर विश्नोई की कलम से 11 अगस्त 【चेतना न्यूज़】 फ्री स्टाइल में
Read More

इंटरनेशनल ग्रांट प्रीक्स टूर्नामेंट के अंतिम दिन भारत को महिला कुश्ती मे दो रजत व एक कास्य पदक प्राप्त

11 अगस्त 【चेतना न्यूज़ 】 बेलारूस की राजधानी मिन्स्क मे 9 से 11 अगस्त तक चलने वाले XLIX अलेक्जेंडर मेडवेद इंटरनेशनल
Read More

राजस्थान का एक अनोखा खेल संघ जहां ना अध्यक्ष है और ना ही सचिव है : कृपाशंकर बिश्नोई

राजस्थान का एक अनोखा खेल संघ जहां ना अध्यक्ष है और ना ही सचिव है = कृपाशंकर बिश्नोई चेतना न्यूज़ पर खेलो की खबर
Read More

कृपा के कोच वेदप्रकाश मालवा अवाॅर्ड के लिए चयन समिति में शामिल

इंदौर8 अगस्त 【चेतना न्यूज़】 मालवा कला अकादमी द्वारा मालवा खेल अवॉर्ड 11 अगस्त को होलकर साइंस कॉलेज में वितरित किए
Read More

महिला कुश्ती ओलंपिक भार श्रेणियों में एसटीसी, लखनऊ में चयन परीक्षण आयोजित

28जुलाई 【चेतना न्यूज़】 आज, 6 महिला कुश्ती ओलंपिक भार श्रेणियों में एसटीसी, लखनऊ में चयन परीक्षण आयोजित किए गए। 2019
Read More

महिला कुश्ती ओलंपिक भार श्रेणियों में एसटीसी, लखनऊ में चयन परीक्षण आयोजित

28जुलाई 【चेतना न्यूज़】 आज, 6 महिला कुश्ती ओलंपिक भार श्रेणियों में एसटीसी, लखनऊ में चयन परीक्षण आयोजित किए गए। 2019
Read More