चेतना न्यूज़

  खबरों का सच

नरसी मेहता जैसा परमार्थी भक्त संसार में कोई नहीं हुआ —वंदना श्री

हिंदू विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष पूर्व राज्यपाल जस्टिस विष्णु सदाशिव कोकजे ने कथा श्रवण की

देवास 14 अप्रेल 【चेतना न्यूज़ 】संसार में हमारी दुविधा को परमात्मा के अलावा कोई दूसरा दूर नहीं कर सकता पृथ्वी पर भक्त पैदा नहीं होते प्रभु की भक्ति के चारण के लिए अवतार लेते हैं। ऐसे ही पंद्रहवीं सदी में महान संत नरसी मेहता थे, जिन्होंने बिना राग द्वेष से जिस देवता की भक्ति की उसने उन्हें दर्शन दिए। शिव भक्ति के प्रताप से संसार में एक ही भक्त नरसी मेहता हुए जिसने शंकर भगवान के साथ श्री कृष्ण की महारास लीला का दर्शन किया है। ईश्वर की भक्ति से मिले धन, वैभव, परमार्थ में लूटने वाला नरसी मेहता जैसा परमार्थी भक्त संसार में दूसरा कोई नहीं हुआ। यह आध्यात्मिक कथन केला देवी मंदिर पर चैत्र नवरात्रि महोत्सव के दौरान आध्यात्मिक ज्ञान गंगा यज्ञ में नानी बाई के मायरे की कथा के प्रथम दिन वंदना श्री जी ने व्यक्त किए। रामनवमी पर प्रभु राम के आदर्श और चरित्र का वर्णन कहते हुए कहा कि जिस ताजमहल को संसार का आश्चर्य कहा जाता है उन मूर्खो को यह नहीं पता है कि शाहजहां ने अपनी बीवी की याद में मकबरा बनवाया था वह आश्चर्य नहीं अगर आश्चर्य है तो प्रभु राम ने अपनी पत्नी सीता को लाने के लिए भारत से लंका तक सेतु बनाया था उससे बड़ा संसार का कोई आश्चर्य नहीं है। कथा चित्रण को सदृश्य प्रस्तुत करते हुए नानी बाई के ससुराल द्वारा नरसी मेहता को लिखी गई पाती का इतना सुंदर दृष्यमय चित्रण किया कि श्रोता भाव विभोर हो गए। कथा के मध्य विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष, हिमाचल के पूर्व राज्यपाल, राजस्थान के पूर्व मुख्य न्यायाधीश विष्णु सदाशिव कोकजे ने कथा को श्रवण किया। व्यास पीठ से श्री कोकजे चुनरी ओढ़ाकर सम्मान किया गया । इस अवसर पर श्री कोकजे ने अपने उद्बोधन में कहा कि भारतवर्ष में परमार्थ की परंपरा पुरातनी है । व्यक्ति की प्रतिष्ठा उसके परमार्थ से ही होती है वर्तमान दौर में वैश्य समाज द्वारा आध्यात्मिक की इस परंपरा का पालन किया जाना देखा जा रहा है । आज हमारी हिंदू संस्कृति अध्यात्म के माध्यम से ही बचाई जा सकती है। पहले गुरुकुल एवं संयुक्त परिवार होते थे, जो हमारी संस्कृति को बनाए रखने का सशक्त माध्यम था यह दोनों परंपरा अब नष्ट होती चली जा रही है। ऐसे में हमारे हिंदुत्व की रक्षा के लिए अध्यात्म ही एक ऐसा मार्ग है जिससे हम आने वाली पीढ़ी को सनातन परंपरा के बारे में बता सकते हैं कि भारत वर्ष की मूल संस्कृति क्या है। आरती में मनुलाल गर्ग, दीपक गर्ग, रायसिंह सेंधव, भारत स्वाभिमान के जिला अध्यक्ष राकेश सिंह, देव कृष्ण व्यास, बृजमोहन अग्रवाल ,राजेश खत्री, रमन शर्मा आदि उपस्थित थे। मां चामुंडा सेवा समिति द्वारा वंदना श्री का देवास की परंपरा के अनुरूप सम्मान किया गया।


Share News

गुरु शिष्य के रिश्ते को शर्मसार करने की कोशीश

पुस्तक में पैसे रख कर बुलाया था अलग कमरे में देवास 20 जुलाई 【चेतना न्यूज़】 कांटाफोड़- विगत दिवस नगर के वार्ड क्रमांक
Read More

लंबी खेच के बाद झमाझम बरसे बदरा किसानों के मुरझाए चेहरों पर आई ख़ुशी

देवास 20 जुलाई 【चेतना न्यूज़】 कांटाफोड़ - नगर में लंबी खेच के बाद इंद्र देव ने कृपा दृष्टि बनाई और मायुश किसानों के
Read More

सांसद श्री सोलंकी ने संसद में उठाया एडवोकेट प्रोटेक्शन एक्ट का मुद्दा

सांसद श्री सोलंकी ने संसद में उठाया एडवोकेट प्रोटेक्शन एक्ट का मुद्दा भारतीय न्याय व्यवस्था का महत्वपूर्ण अंग
Read More

युवा मोर्चा ने बनाये नए सदस्य

द्वारका शर्मा देवास 18 जुलाई 【चेतना न्यूज़】 कांटाफोड़- नगर मैं आज भारतीय जनता युवा मोर्चा के द्वारा सदस्यता अभियान
Read More

इनरव्हील क्लब ने शा.प्रा.स्कूल कालूखेडी को बनाया हैप्पी स्कूल

देवास 17 जुलाई 【चेतना न्यूज़】 इनरव्हील क्लब देवास द्वारा शासकीय प्राथमिक स्कूल कालूखेडी को हैप्पी स्कूल के रूप में
Read More

प्रभारी मंत्री से मुलाकात क्षेत्र की समस्याओं से कराया अवगत।

देवास 17 जुलाई【 चेतना न्यूज़】 कांटाफोड़ - मध्यप्रदेश शासन के उच्च शिक्षा मंत्री एवम जिले के प्रभारी मंत्री जीतू
Read More

गुलाना चोकी प्रभारी सविता ठाकुर ओर थाना प्रभारी मुन्नी परिहार ने पत्रकार को दी धमकी

गुलाना चोकी प्रभारी सविता ठाकुर ओर थाना प्रभारी मुन्नी परिहार ने पत्रकार को दी धमकी एस पी शेलेनद्र कुमार चोहान
Read More

क्राईम ब्रांच इन्दौर की कार्यवाही में अवैध हथियारों की तस्करी करने वाले 04 आरोपी गिरफ्तार

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक महोदय इंदौर झोन द्वारा झोन के सभी जिलों में अवैध हथियारों की खरीद/फरोख्त व तस्करी करने
Read More

गुरु पूर्णिमा पर हुवे विभिन्न आयोजन , किया गुरु का पूजन

देवास 17 जुलाई【 चेतना न्यूज़ 】 कांटाफोड़-नगर कांटाफोड़ में गुरुपूर्णिमा के पावन अवसर पर विभन्न स्थानों पर गुरु की
Read More