चेतना न्यूज़

  खबरों का सच
मुंबई, 19 अक्टूबर (chetnanews)| भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने गुरुवार को कार्यकारी सचिव अमिताभ चौधरी के आईसीसी की बैठक में हिस्सा लेने पर सफाई देते हुए कहा है कि चौधरी बोर्ड के विवादित मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) राहुल जौहरी के स्थान पर आईसीसी की बैठक में हिस्सा नहीं लेंगे क्योंकि वह आईसीसी बोर्ड के निदेशक होने के नाते पहले ही बैठक में जाने के हकदार हैं। जौहरी पर एक महिला लेखक ने यौन शोषण के आरोप लगाए हैं, जिसके प्रशासकों की समिति (सीओए) ने जौहरी को बैठक में हिस्सा लेने से रोक दिया है। आईसीसी की यह बैठक 17 से 20 अक्टूबर के बीच सिंगापुर में होनी हैं। सीओए ने जौहरी से उनके ऊपर लगे आरोपों के संबंध में सफाई मांगी है। बीसीसीआई ने एक बयान जारी कर कहा है, "जब से यह फैसला लिया गया है कि जौहरी बैठक में हिस्सा नहीं लेंगे तब से ऐसी धारणाएं बना ली गई हैं कि बोर्ड अमिताभ चौधरी को जौहरी के विकल्प के तौर पर बैठक में भेजेगा।" बयान के मुताबिक, "यह बात मालूम होनी चाहिए की चौधरी बीते दो साल से आईसीसी बोर्ड के निदेशक हैं और वह लगातार आईसीसी की बैठकों में भारत/बीसीसीआई का प्रतिनिधित्व करते आ रहे हैं।" बीसीसीआई के बयान के मुताबिक, "चौधरी को सिंगापुर में होने वाली इस बैठक में आईसीसी के बोर्ड निदेशक के तौर पर हिस्सा लेना ही था। अगर जौहरी भी इस बैठक में जाते तब भी चौधरी इस बैठक में हिस्सा लेते।"

Share News