चेतना न्यूज़

  खबरों का सच

नई दिल्ली, 20 अगस्त (चेतना न्यूज़)| त्योहारों के मौसम की शुरुआत हो चुकी है और सेलिब्रिटी शेफ कुणाल कपूर नए अंदाज में मिठाइयों को परोसने के लिए तैयार हैं। कुणाल ने अपने नए प्रयोग के तहत मिठाइयों से शक्कर को अलग किया है, वह भी मिठास को कम किए बगैर, यह उन लोगों के लिए काफी अच्छी खबर है जो शिकायत करते हैं कि भारतीय मिठाइयों में कैलोरी व शक्कर जरूरत से ज्यादा होती है। कुणाल यूट्यूब पर प्रसारित पांच भागों की वेब श्रृंखला 'द स्वीट ब्रेकअप' में शक्कर को मिठाइयों से अलग करना सिखा रहे हैं। खास बात है कि यहां मिठाइयों की मिठास तो बरकरार रहेगी, लेकिन सेहत के लिहाज से वह हर दिल अजीज हो जाएंगी।

रेस्तरां श्रृंखलाओं के मालिक कुणाल विभिन्न पाक कला कार्यक्रमों के निर्णायक रह चुके हैं। कुणाल ने आईएएनएस को दिए एक साक्षात्कार में कहा, "हम सभी को अपनी-अपनी संस्कृति से जुड़े व्यंजनों से प्यार है और मिठाइयां हमारी संस्कृति, भोजन और दिल में विशेष स्थान रखती हैं। हमने भोजन सहित जीवन के हर पहलू में उन्नति की लेकिन इस कड़ी में हलवाई पीछे छूट गए हैं।" 

उन्होंने कहा, "वह अभी भी पुराने ढर्रे पर काम कर रहे हैं, जिनसे अब लगभग हर कोई कैलोरी और शक्कर की अत्यधिक मात्रा की शिकायत करता है। इसलिए हमने भारतीय मिठाई को उसके मूल स्वाद के साथ बगैर शक्कर व बहुत कम कैलोरी के बनाने की चुनौती को स्वीकार किया है। मुझे पूरा भरोसा है कि यह हर किसी के लिए उतना ही मजेदार होगा जितना मेरे लिए है।"

इस श्रृंखला में कुणाल के साथ पाक कला आधारित शो 'हाइवे ऑन माइ प्लेट' के संचालक रॉकी और मयूर शामिल होंगे। इस शो में कुणाल एक डेजर्ट ट्रक के जरिए भारत के पांच प्रतिष्ठत शहरों में घूम-घूम कर वहां के शेफ व हलवाइयों से मिलेंगे और यह बताने की कोशिश करेंगे कि कैसे मिठाइयों में शक्कर के स्थान पर कृत्रिम मीठा के प्रयोग किया जाए और जिससे उसका पारंपरिक स्वाद भी बरकरार रहे। 

उन्होंने कहा, "इस वेब श्रृंखला में भारत की कुछ प्रतिष्ठित मिठाइयों को नए अंदाज में परोसने का प्रयास किया गया है। हमने हलवाई के पेशे से जुड़ी पांचवीं, छठी पीढ़ियों से बात की। हमने इस शो में महान भारतीय मिठाइयों की कथाओं और उत्पत्ति का पता लगाने की कोशिश की है।"

कुणाल बताते हैं, "हमने हर शहर के स्थानीय लोगों से भी बातचीत की। हमने लोगों के लिए स्थानीय व पारंपरिक स्वाद के बारे में लोगों से जानने की कोशिश की और जब मैंने बगैर शक्कर केवल शुगर फ्री के इस्तेमाल से मिठाई तैयार की तो इसे शहर के लोगों को चखने के लिए दिया, जो हमारे शो का सबसे उत्साहजनक हिस्सा था।"

कुणाल ने अपने शो के लिए देश की सबसे प्रसिद्ध मिठाइयों का चयन किया। 

कुणाल बताते हैं, "हमने चांदनी चौक के तिवारी ब्रदर्स के प्रसिद्ध गुलाब जामुन, लखनऊ की मलाई गिलौरी, कोलकाता के बालाराम स्वीट्स के संदेश, बेंगलुरू के धाड़वाड़ पेड़ा और मुंबई के मोदक को बनाने में शुगर फ्री का इस्तेमाल किया। हर मिठाई का अपना अलग महत्व है और मेरे लिए इनके जायकों का पुनर्निर्माण एक शानदार अनुभव था।"
 


Share News