चेतना न्यूज़

  खबरों का सच

मिजार्पुर, 15 अक्टूबर (चेतना न्यूज़/आईपीएन)। उप्र के मिर्जापुर जिले में विन्ध्याचल थाना क्षेत्र के परसिया गांव में संचालित पं दीनदयाल उपाध्याय आश्रम पद्धति विद्यालय के 107 से अधिक बच्चे शुक्रवार की रात नौ बजे बीमार हो गए। 

बताया जाता है कि बच्चे छिपकली गिरी दाल खाने से फूड प्वाइजनिंग के शिकार हो गए। रात में भोजन करने के बाद एक के बाद एक बच्चों को उल्टी दस्त शुरू हो गई। 

बच्चों को बीमार होता देखा विद्यालय प्रबंधन अलर्ट हो गया। उपचार के लिए विंध्याचल सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया गया। वहां से प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्तपाल रेफर कर दिया गया। सूचना मिलते ही जिलाधिकारी विमल कुमार दूबे एवं पुलिस अधीक्षक आशीष तिवारी मौके पर पहुंचे। 

विद्यालय में करीब 430 छात्र हैं। शुक्रवार की रात विद्यालय में दाल, सब्जी, चावल और रोटी बनी थी। करीब नौ बजे स्कूल के बच्चों ने भोजन किया। भोजन के कुछ ही देर बाद एक के बाद एक बच्चों को मिचली और उल्टी शुरू हो गई। यह देख विद्यालय के अधीक्षक ने तत्काल भोजन की जांच की तो बची हुई दाल में मरी हुई छिपकली दिखी। दाल में छिपकली देखते ही हड़कंप मच गया। 

तत्काल एंबुलेंस से बच्चों को इलाज के लिए विन्ध्याचल सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया। वहां से बच्चों का प्राथमिक उपचार कर जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। घटना की जानकारी मिलते ही कई पुलिस व प्रशासनिक अफसर भी जिला अस्पताल पहुंच गए। कई डाक्टरों को भी जिला अस्पताल बुला लिया गया। डॉक्टरों का कहना है कि बच्चों की सेहत में अब सुधार हो रहा है।

अभी मड़िहान तहसील के राजकीय आश्रम पद्धति बालिका विद्यालय में गुरुवार को सौ से अधिक छात्राएं फूड प्वाइजनिंग से उबर नहीं पाईं थी।


Share News