चेतना न्यूज़

  खबरों का सच

मुम्बई, 2 फरवरी (चेतना न्यूज़ )| विकास जाएरू द्वारा 84वें मिनट में किए गए गोल की मदद से जमशेदपुर एफसी ने गुरुवार को मुम्बई फुटबाल एरेना में मेजबान मुम्बई सिटी एफसी को 2-1 से हराते हुए हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) की अंक तालिका में चौथा स्थान हासिल कर लिया है। विकास स्थानापन्न के तौर पर 82वें मिनट में मैदान में आए थे। मैच का पहला गोल जमशेदपुर ने किया था। हालांकि यह गोल मुम्बई के खिलाड़ी संजू प्रधान ने किया था लेकिन मुम्बई की टीम ने 79वें मिनट में एवर्टन सांतोस द्वारा किए गए शानदार गोल की मदद से बराबरी करने में सफलता हासिल की परंतु मेजबान टीम इसे बरकरार नहीं रख सकी और 84वें मिनट में गोल खाकर एक बार फिर पीछे हो गई। जमशेदपुर की टीम हालांकि इस अंतर को बनाए रखने में सफल हुई और कुल 22 अंकों के साथ चौथे स्थान पर पहुंच गई। एफसी गोवा को पांचवें स्थान पर खिसकना पड़ा है। मुम्बई की टीम 17 अंकों के साथ छठे स्थान पर ही बनी हुई है।

पहला हाफ दोनों टीमों के लिए उपयोगी रहा लेकिन मुम्बई की टीम दुर्भाग्यशाली रही कि उसके अपने ही खिलाड़ी ने गोल बचाने के प्रयास में आत्मघाती गोल कर जमशेदपुर को आगे निकलने का मौका दे दिया। मुम्बई की रक्षापंक्ति ने हालांकि इस हाफ में कमजोर खेल दिखाया।

दोनों टीमों की ओर से कुछ अच्छे हमले हुए लेकिन 37वें मिनट में जो हुआ, वह मेजबान टीम पर भारी पड़ा। फारूख चौधरी ने मैदान के मध्य से एक शॉट लिया, जो मुम्बई के बॉक्स में पहुंचा। मार्सियो रोजारियो उस तक नहीं पहुंच सके और संजू गेंद की ओर लपके। वह गेंद को क्लीयर करने की जगह उल्टे अपने ही गोलपोस्ट में मार बैठे। मुम्बई की टीम बदकिस्मत निकली और जमशेदपुर की टीम किस्मत का साथ पाकर आगे हो गई।

दूसरे हाफ में हालांकि मुम्बई ने अच्छी शुरुआत की और गेंद पर लगातार कब्जा बनाए रखा। 56वें मिनट में उसके पास बराबरी करने का स्वर्णिम मौका था लेकिन थियागो सांतोस करीब से चूक गए। यह मूव एचिल इमाना ने बनाया था और बलवंत सिंह ने एक बेहतरीन पास सांतोस को दिया था। सांतोस को बस गेंद गोलपोस्ट में डालना था लेकिन वह चूक गए।

यह हमला बेकार जाने के बाद मुम्बई ने हमले जारी रखे। 58वें मिनट में उसने एक जोरदार हमला किया लेकिन सुब्रत पॉल ने उसे एक बार फिर निराश कर दिया। संजू ने दाईं ओर से एक बेहतरीन क्रास बलवंत को दिया लेकिन बलवंत कुछ कर पाते, उससे पहले ही सुब्रत ने स्पाइडरमैन जैसा जम्प करते हुए गेंद को उनसे दूर कर दिया।

बलवंत ने 61वें मिनट में एक और मौका गंवाया। एवर्टन सांतोस ने एक नपातुला क्रास बलवंत को दिया। बलवंत ने फ्लाइंग हेडर के जरिए उसे गोल में पहुंचाने का प्रयास किया लेकिन वह बाहर चली गई। बलवंत इस नाकाम प्रयास पर बेहद निराश होंगे और साथ ही उनकी टीम भी।

अपनी टीम के लिए आत्मघाती गोल करने वाले संजू बराबरी का गोल करने का लगातार प्रयास कर रहे थे। 66वें मिनट में संजू ने बॉक्स में इमाना द्वारा भेजे गए पास पर एक करारा शॉट जमशेदपुर के गोलपोस्ट को निशाने बनाकर दागा लेकिन वह सुब्रत की अंगुलियों को छूते हुए बार से टकरा गई। 11 मिनट के भीतर मुम्बई का चौथा बड़ा हमला बेकार गया।

बदले में जमशेदपुर ने 74वें मिनट में एक अच्छा हमला किया। जेरी एम. के सामने सिर्फ मुम्बई के गोलकीपर अमरिंदर सिंह थे। जेरी कुछ कर पाते इससे पहले अमरिंदर ने खुद को व्यवस्थित करते हुए एक अच्छा सेव करते हुए मेहमान टीम को 2-0 की बढ़त लेने से रोका।

74वें मिनट में ही बवलंत के पास मौका था लेकिन वह ऑफसाइड करार दिए गए। इसके पांच मिनट बाद एवर्टन सांतोस ने बराबरी का गोल करते हुए मेजबान टीम को राहत प्रदान की। यह गोल बाएं किनारे से थियागो सांतोस द्वारा लिए गए कार्नर पर हुआ। एवर्टन ने पहले प्रयास में गोल करने की कोशिश की लेकिन सुब्रत ने उसे रोक दिया। गेंद दोबारा एवर्टन के पास पहुंची और इस दफे उन्होंने कोई गलती नहीं की।

बराबरी के इस गोल ने मानो जमशेदपुर की आंख खोल दी। उसने फारूख को हटाते हुए विकास जायरू को मैदान में भेजा। विकास ने आते ही जमशेदपुर को फिर से आगे कर दिया। जाएरू ने यह गोल 84वें मिनट में किया। यह गोल बिके के उस क्रास पर हुआ, जो उन्होंने केरवंस बेलफोर्ट को दिया था। बेलफोर्ट का शॉट अमरिंदर ने रोक दिया लेकिन गेंद जब जाएरू के पास गई तो उन्होंने उसे गोलपोस्ट में डालकर अपनी टीम को आगे कर दिया।
 


Share News