Astrology Upay: रोजाना शंख से जुड़े ये उपाय करने से प्राप्त होगी सुख-समृद्धि, जानिए क्या कहता है ज्योतिष शास्त्र

सनातन धर्म में शंख को बेहद शुभ माना जाता है। शंख की ध्वनि से नकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह कम हो जाता है और सकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है। शंख को बुध ग्रह का प्रतीक माना जाता है। मान्यता के मुताबिक शंख बजाने से कुंडली में बुध ग्रह की स्थिति मजबूत होती है। साथ ही व्यक्ति की बुद्धि, ज्ञान, वाणी और स्मरण शक्ति में वृद्धि होती है। वहीं शंख का संबंध सूर्यदेव से भी होता है। यदि कोई जातक सूर्योदय से पहले शंख बजाता है, तो उसे, यश-कीर्ति और आरोग्यता प्राप्त होती है।ज्योतिष शास्त्र में दिन के अनुसार शंख से जुड़े कुछ ऐसे उपाय बताए गए हैं। इन उपायों को करने से व्यक्ति के सुख-समृद्धि में वृद्धि होती है। आज इस आर्टिकल के जरिए हम आपको बताने जा रहे हैं कि किस दिन शंख बजाने से क्या फायदा होता है।इसे भी पढ़ें: Mandir Vastu Tips: घर के मंदिर से फौरन हटा दें ये चीजें, वरना झेलने पड़ सकते हैं नकारात्मक परिणामसोमवार के दिन का उपायसोमवार का दिन भगवान शिव और चंद्र ग्रह को समर्पित होता है। सोमवार के दिन शंख में दूध भरकर भगवान शंकर को अर्घ्य देना चाहिए। इस उपाय को करने से चंद्रमा मजबूत होता है। इस उपाय को करने से मन शांत होता है।मंगलवार के दिन का उपायमंगलवार का दिन भगवान हनुमान और मंगल ग्रह को समर्पित होता है। इस दिन सूर्योदय से पहले शंख बजाना चाहिए। इससे मंगल ग्रह मजबूत होता है और व्यक्ति के साहस व पराक्रम में वृद्धि होती है।बुधवार के दिन का उपायबुधवार का दिन भगवान गणेश और बुध ग्रह को समर्पित होता है। बुधवार के दिन शंख में गंगाजल भरकर भगवान गणेश को देना चाहिए। इससे बुद्धि और वाणी में वृद्धि होती है।गुरुवार के दिन का उपायगुरुवार का दिन भगवान विष्णु और बृहस्पति ग्रह को समर्पित होता है। इस दिन शंख में केसर और चंदन मिलाकर जल भरकर श्रीहरि विष्णु को अर्घ्य देना चाहिए। ऐसा करने से गुरु ग्रह मजबूत होता है और व्यक्ति के ज्ञान-समृद्धि में वृद्धि होती है।शुक्रवार के दिन का उपायमाँ लक्ष्मी और शुक्र ग्रह को शुक्रवार का दिन समर्पित होता है। इस दिन गोपी चंदन और इत्र मिलाकर शंख में जल भरकर माँ लक्ष्मी की पूजा करनी चाहिए। इससे शुक्र ग्रह मजबूत होता है और जातक को धन-वैभव और सुख-सुविधाओं में वृद्धि होती है।शनिवार के दिन का उपायशनिवार का दिन शनि देव और शनि ग्रह माना जाता है। शनिवार के दिन शनिदेव की छाया में बैठकर शंख बजाने से शनि ग्रह शांत होता है और जातकों को कष्टों से मुक्ति मिलती है।रविवार के दिन का उपायरविवार का दिन सूर्य देव का माना जाता है। वहीं सूर्योदय से पहले शंख बजाने से कुंडली में सूर्य ग्रह कमजोर होता है और व्यक्ति आरोग्य, यश और कीर्ति में वृद्धि होती है।शंख बजाने के दौरान इन बातों का ध्यानशंख को हमेशा साफ और स्वच्छ रखें।सूर्योदय से पहले या सूर्यास्त के बाद शंख बजाना चाहिए और उसी के हिसाब से शंख बजाना चाहिए।शंख बजाने के दौरान शांत और एकाग्र रहना चाहिए। तभी जातक को पूर्ण फलों की प्राप्ति होती है।

May 29, 2024 - 17:38
 0  17
Astrology Upay: रोजाना शंख से जुड़े ये उपाय करने से प्राप्त होगी सुख-समृद्धि, जानिए क्या कहता है ज्योतिष शास्त्र
सनातन धर्म में शंख को बेहद शुभ माना जाता है। शंख की ध्वनि से नकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह कम हो जाता है और सकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है। शंख को बुध ग्रह का प्रतीक माना जाता है। मान्यता के मुताबिक शंख बजाने से कुंडली में बुध ग्रह की स्थिति मजबूत होती है। साथ ही व्यक्ति की बुद्धि, ज्ञान, वाणी और स्मरण शक्ति में वृद्धि होती है। वहीं शंख का संबंध सूर्यदेव से भी होता है। यदि कोई जातक सूर्योदय से पहले शंख बजाता है, तो उसे, यश-कीर्ति और आरोग्यता प्राप्त होती है।

ज्योतिष शास्त्र में दिन के अनुसार शंख से जुड़े कुछ ऐसे उपाय बताए गए हैं। इन उपायों को करने से व्यक्ति के सुख-समृद्धि में वृद्धि होती है। आज इस आर्टिकल के जरिए हम आपको बताने जा रहे हैं कि किस दिन शंख बजाने से क्या फायदा होता है।

इसे भी पढ़ें: Mandir Vastu Tips: घर के मंदिर से फौरन हटा दें ये चीजें, वरना झेलने पड़ सकते हैं नकारात्मक परिणाम


सोमवार के दिन का उपाय
सोमवार का दिन भगवान शिव और चंद्र ग्रह को समर्पित होता है। सोमवार के दिन शंख में दूध भरकर भगवान शंकर को अर्घ्य देना चाहिए। इस उपाय को करने से चंद्रमा मजबूत होता है। इस उपाय को करने से मन शांत होता है।

मंगलवार के दिन का उपाय
मंगलवार का दिन भगवान हनुमान और मंगल ग्रह को समर्पित होता है। इस दिन सूर्योदय से पहले शंख बजाना चाहिए। इससे मंगल ग्रह मजबूत होता है और व्यक्ति के साहस व पराक्रम में वृद्धि होती है।

बुधवार के दिन का उपाय
बुधवार का दिन भगवान गणेश और बुध ग्रह को समर्पित होता है। बुधवार के दिन शंख में गंगाजल भरकर भगवान गणेश को देना चाहिए। इससे बुद्धि और वाणी में वृद्धि होती है।

गुरुवार के दिन का उपाय
गुरुवार का दिन भगवान विष्णु और बृहस्पति ग्रह को समर्पित होता है। इस दिन शंख में केसर और चंदन मिलाकर जल भरकर श्रीहरि विष्णु को अर्घ्य देना चाहिए। ऐसा करने से गुरु ग्रह मजबूत होता है और व्यक्ति के ज्ञान-समृद्धि में वृद्धि होती है।

शुक्रवार के दिन का उपाय
माँ लक्ष्मी और शुक्र ग्रह को शुक्रवार का दिन समर्पित होता है। इस दिन गोपी चंदन और इत्र मिलाकर शंख में जल भरकर माँ लक्ष्मी की पूजा करनी चाहिए। इससे शुक्र ग्रह मजबूत होता है और जातक को धन-वैभव और सुख-सुविधाओं में वृद्धि होती है।

शनिवार के दिन का उपाय
शनिवार का दिन शनि देव और शनि ग्रह माना जाता है। शनिवार के दिन शनिदेव की छाया में बैठकर शंख बजाने से शनि ग्रह शांत होता है और जातकों को कष्टों से मुक्ति मिलती है।

रविवार के दिन का उपाय
रविवार का दिन सूर्य देव का माना जाता है। वहीं सूर्योदय से पहले शंख बजाने से कुंडली में सूर्य ग्रह कमजोर होता है और व्यक्ति आरोग्य, यश और कीर्ति में वृद्धि होती है।

शंख बजाने के दौरान इन बातों का ध्यान
शंख को हमेशा साफ और स्वच्छ रखें।
सूर्योदय से पहले या सूर्यास्त के बाद शंख बजाना चाहिए और उसी के हिसाब से शंख बजाना चाहिए।
शंख बजाने के दौरान शांत और एकाग्र रहना चाहिए। तभी जातक को पूर्ण फलों की प्राप्ति होती है।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow