Putin ने नयी सरकार की नियुक्ति के आदेश पर हस्ताक्षर किए, रक्षा मंत्री का तबादला शामिल

मॉस्को । रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने मंगलवार को नयी सरकार की नियुक्ति के आदेश पर हस्ताक्षर किए, जिसमें एक पूर्व उप प्रधानमंत्री को रक्षा मंत्री नियुक्त किया गया है। पुतिन का छह साल का नया कार्यकाल सात मई को शुरू हुआ था। तब रूस के कानून के अनुरूप सरकार ने इस्तीफा सौंप दिया था। पुतिन ने मिखाइल मिशुस्तिन को तीन दिन बाद पुन: प्रधानमंत्री नियुक्त किया जिसे संसद के निचले सदन ने तत्काल अनुमति दे दी। उन्होंने रविवार को एक आदेश पर हस्ताक्षर किए जिसके तहत सर्गेई शोइगु को रक्षा मंत्री के पद से हटाकर राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद का प्रमुख नियुक्त किया गया। पुतिन ने पूर्व उप प्रधानमंत्री आंद्रेई बेलौसोवको नया रक्षा मंत्री भी नियुक्त किया जो आर्थिक विशेषज्ञ हैं और उनकी कोई सैन्य पृष्ठभूमि नहीं है। पुतिन ने कुछ कैबिनेट सदस्यों की पुन: नियुक्ति का भी प्रस्ताव रखा और मिशुस्तिन ने कई नए मंत्रियों के लिए नाम प्रस्तुत किए, जिनमें से सभी को संसद ने मंजूरी दे दी। यूक्रेन में रूसी सैनिकों को भेजने के पुतिन के फैसले में शोइगु की अहम भूमिका मानी जाती है। पुतिन ने जिस आदेश पर हस्ताक्षर किए हैं, उसमें व्यापक तौर पर पिछली कैबिनेट को ही रखा गया है और साथ ही ऊर्जा, खेल, परिवहन, उद्योग तथा कृषि मंत्रियों के रूप में नये चेहरों को भी शामिल किया गया है।

May 16, 2024 - 12:05
 0  29
Putin ने नयी सरकार की नियुक्ति के आदेश पर हस्ताक्षर किए, रक्षा मंत्री का तबादला शामिल
मॉस्को । रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने मंगलवार को नयी सरकार की नियुक्ति के आदेश पर हस्ताक्षर किए, जिसमें एक पूर्व उप प्रधानमंत्री को रक्षा मंत्री नियुक्त किया गया है। पुतिन का छह साल का नया कार्यकाल सात मई को शुरू हुआ था। तब रूस के कानून के अनुरूप सरकार ने इस्तीफा सौंप दिया था। पुतिन ने मिखाइल मिशुस्तिन को तीन दिन बाद पुन: प्रधानमंत्री नियुक्त किया जिसे संसद के निचले सदन ने तत्काल अनुमति दे दी। उन्होंने रविवार को एक आदेश पर हस्ताक्षर किए जिसके तहत सर्गेई शोइगु को रक्षा मंत्री के पद से हटाकर राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद का प्रमुख नियुक्त किया गया। 

पुतिन ने पूर्व उप प्रधानमंत्री आंद्रेई बेलौसोवको नया रक्षा मंत्री भी नियुक्त किया जो आर्थिक विशेषज्ञ हैं और उनकी कोई सैन्य पृष्ठभूमि नहीं है। पुतिन ने कुछ कैबिनेट सदस्यों की पुन: नियुक्ति का भी प्रस्ताव रखा और मिशुस्तिन ने कई नए मंत्रियों के लिए नाम प्रस्तुत किए, जिनमें से सभी को संसद ने मंजूरी दे दी। यूक्रेन में रूसी सैनिकों को भेजने के पुतिन के फैसले में शोइगु की अहम भूमिका मानी जाती है। पुतिन ने जिस आदेश पर हस्ताक्षर किए हैं, उसमें व्यापक तौर पर पिछली कैबिनेट को ही रखा गया है और साथ ही ऊर्जा, खेल, परिवहन, उद्योग तथा कृषि मंत्रियों के रूप में नये चेहरों को भी शामिल किया गया है।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow